Contact us for coverage : +91-6284337232, Active Visitor: 390

दिल्ली-एनसीआर में बेलगाम प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट सख़्त

दिनांक: 06/11/2020



आज शाम प्लस

दिल्ली-एनसीआर में हवा लगातार घातक होती जा रही है। इस संबंध में सभी दावे और निर्णय लिए गए हैं, लेकिन इसके बावजूद कोई सकारात्मक प्रभाव नहीं देखा गया है। हर साल दिवाली से पहले सांस लेना भारी हो जाता है। साथ ही शुक्रवार को वायु प्रदूषण पर दिल्ली-एनसीआर में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने शीर्ष अदालत को बताया कि प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए गठित आयोग आज से काम करना शुरू कर देगा। इस पर, सुप्रीम कोर्ट ने सख्ती से कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि दिल्ली को स्मॉग से छुटकारा मिले।

कोर्ट अब दीवाली की छुट्टी के बाद वायु प्रदूषण मामले की सुनवाई करेगा। सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए आयोग के सदस्यों के नामों को अंतिम रूप दिया गया है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए गठित आयोग के अधिकारियों के नाम जारी किए गए हैं। इसने आयोग के अध्यक्ष के रूप में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय में पूर्व सचिव एमएम कुट्टी को नियुक्त किया है। तत्पश्चात 14 और सदस्य शामिल होंगे। दिल्ली, हरियाणा, यूपी, राजस्थान और पंजाब के अधिकारी भी मौजूद रहेंगे। उल्लेखनीय है कि वायु प्रदूषण बढ़ाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय भी हर साल केंद्र सरकार को दोषी ठहराता है। इस बार भी यह मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है और इस पर सुनवाई हो रही है।

1 / 15
2 / 15
3 / 15
4 / 15
5 / 15
6 / 15
7 / 15
8 / 15
9 / 15
10 / 15
11 / 15
12 / 15
13 / 15
14 / 15
15 / 15

ट्रेंडिंग खबरे